10 best sugar test machine price
Diabetes

10 best Sugar test machine price

 दुनिया में डायबिटीज के केस हर साल बढ़ते जा रहे हैं,  हिंदुस्तान भी इससे अछूता नहीं है। हमारी बदलती हुई जीवन शैली इसका एक बहुत बड़ा कारण है। और इससे लड़ने का सबसे अच्छा तरीका भी अपनी मौजूदा जीवन शैली में बदलाव ही है। शरीर में ब्लड शुगर का बहुत ज्यादा या बहुत कम हो जाना  बहुत घातक हो सकता है, तो समय-समय पर ब्लड शुगर की जांच बहुत जरूरी है। यह उन लोगों में और जरूरी हो जाती है जिन्हें इंसुलिन का  इंजेक्शन  या दवाई लेनी पड़ती है। ऐसे में शुगर की मशीन खरीदना आवश्यक हो जाता है।

 अब कई लोग शुगर की मशीन खरीदते वक्त सस्ते के पीछे बहुत  भागते हैं, सोचते है ,” क्या फर्क पड़ता है, सस्ता हो या महंगा रीडिंग तो सब  में  एक जैसी ही दिखाएगा  “ , तो भैया ऐसा नहीं है, फर्क पड़ता है।  मशीन में शुगर टेस्ट करने के लिए आपको टेस्ट स्ट्रिप लगानी पड़ती है,  तो मशीन खरीदते  वक्त test strip  का दाम देखना भी जरूरी होता है।  सस्ती मशीनों की test strip महंगी आती है,  तो लोग अक्सर सस्ते के चक्कर में मशीन खरीदते है  और फिर  महीने का टेस्ट स्ट्रिप का खर्चा देखकर अपना सर पकड़ लेते हैं। 

सस्ती मशीन में गलत रीडिंग का भी खतरा रहता है जिससे  आपके इलाज पे भी असर पड़ सकता है, क्योंकि आपका इलाज   इन रीडिंग पर निर्भर करता है। इसलिए एक  अच्छी quality की मशीन खरीदना और भी जरूरी हो जाता है। अब सवाल आता है कि भैया मार्केट में तो इतनी सारी मशीनें है , अब उनमें से कौन सी लें? मशीन खरीदते वक्त उसमें क्या देखें जिससे हम यह निर्णय ले सके की कौन सी अच्छी है और कौन सी खराब और कौन सी हमारे लिए सबसे बढ़िया रहेगी?

आपके इन सभी सवालों का जवाब आपको इस लेख में मिल जाएगा, तो कृपया इस लेख को पूरा पढ़िएगा। मैंने आप की  सुविधा के लिए इंटरनेट की गहराइयों से ढूंढ कर आपके लिए यह शुगर टेस्ट मशीनों की सूची बनाई है,  यह सूची किसी विशेष क्रम में नहीं है तो आप इनमें से जो मशीनें आपको अच्छी लगे उनकी तुलना करके देख सकते हैं , और यह निर्णय ले सकते हैं कि आपको कौन सी खरीदनी चाहिए । 

10 best Sugar test machine price 

ग्लूकोमीटर का दामAutomatic CodingMemory storage MemoryTest strip का दाम(Amazon पर)
Accu-Chek Active Blood Glucose Monitor1549 rsहां हां 
500 test resultsAccu-Chek Active Strips, Pack of 50960rs
Contour Plus One Blood Glucose Monitor1299 rsहां हां 800 test resultsContour Plus Strips 50 Count (Multicolor)938rs
One Touch Select Plus Simple Blood Glucosemeter1150 rs(on flipkart)हां हां OneTouch Select Plus Strips, 50 Count1060rs
OneTouch Verio Flex Blood Glucose Monitor1200rsहां हां 500 test resultsOneTouch Verio Test Strips 100 Count (Multicolor)100 strips-1985rs
Accu-Chek Guide Glucometer 2399 rsहाँहाँ720 test resultsAccu-Chek Guide Strips Pack of 5050 strips -1249 rs
Accu-Chek Instant glucometer1449 rsहाँहाँ720 test resultsAccu-Chek Instant Test Strips, 50 Count (Multicolor)960rs
Accu-Chek Instant S Glucometer 1070 rsहाँहाँ(पर online)Accu-Chek Instant Test Strips, 50 Count (Multicolor)960 rs
Dr TrustFully Automatic Blood Sugar Testing Glucometer Machine899 rsहाँहाँ1000 Results MemoryDr Trust USA Gold Standard Blood Glucose Test Strips Plus Lancets – 50 Strips (Black)799rs
Dr. Morepen Gluco One Glucometer1119 rsहाँहाँ300 test resultsDr. Morepen BG-03-25 Strips (Pack of 2)= 50 strips779rs
Accu Chek Performa Glucometer1999 rsहाँहाँ500 test resultsACCU-CHEK Performa 50 Glucometer Strips(flipkart)999rs
10 best Sugar test machine price

ग्लूकोमीटर(शुगर की मशीन) की सटीकता कितनी होती है?

ग्लूकोमीटर शुगर नापने की मशीन को ही कहा जाता है।अच्छे से अच्छा ग्लूकोमीटर भी एकदम प्रयोगशाला जैसे रिजल्ट्स नही दिखाता। ऐसा होता है क्योंकि जो प्रयोगशाला(laboratory) में टेस्ट होते है वो venous blood का इस्तेमाल करते है और ग्लूकोमीटर में capillary blood का इस्तेमाल किया जाता है। और प्रयोगशाला के टेस्ट में blood cells निकाल के खाली plasma पर टेस्ट किया जाता है, जिसके कारण थोड़ा फर्क होता है इन दोनों की रीडिंग में।

अंतरराष्ट्रीय मानकों के हिसाब से शुगर   जांचने की मशीन( ग्लूकोमीटर) की रीडिंग में 15% – 20%  से ज्यादा का अंतर नहीं होना चाहिए। तो आप शुगर जांचने की मशीन लेते समय  इस बात का भी ध्यान रखें।ग्लूकोमीटर की सटीकता आपके इस्तेमाल करने के तरीके पर भी निर्भर करती है।  इसलिए यह जानना भी जरूरी है कि ग्लूकोमीटर को सही तरीके से किस तरह इस्तेमाल करें। 

शुगर की मशीन खरीदते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें?

शुगर की मशीन खरीदते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें?
10 best Sugar test machine price
  1. ग्लूकोमीटर की सटीकता

 यह बात मैं आपको ऊपर बता चुका हूं कि कोई भी ग्लूकोमीटर 100%  सटीक नहीं होता। और आप का उपचार इन रीडिंग पर निर्भर करता है,  तो खरीदने से पहले यह देखना बहुत जरूरी है कि ग्लूकोमीटर अंतरराष्ट्रीय मानकों पर खरा उतरता है कि नहीं। 

  1. ग्लूकोमीटर का टेस्ट टाइम 

जो लोग इंसुलिन ले रहे हैं या डायबिटीज की कोई दवाई ले रहे हैं उन्हें हर दिन खाने से पहले या फिर कम से कम दिन में दो-तीन बार तो खून में शुगर  की मात्रा की जांच तो करनी ही पड़ती है। 

ज्यादातर ग्लूकोमीटर पांच से 15 सेकंड तक का टाइम लेते हैं रिजल्ट दिखाने के लिए,  कुछ ग्लूकोमीटर जो ज्यादा विस्तृत होते हैं और आपको ज्यादा जानकारियां दिखाते हैं वह आमतौर पर ज्यादा समय लेते हैं।  अब आप अगर कभी कभी  ही खून में शुगर की मात्रा की जांच करते हैं तब तो कोई बात नहीं पर अगर दिन में तीन चार बार यह काम करना पड़ जाए तो यह आपको परेशान कर सकता है। 

  1. Markers( मार्कर्स )

           Markers को flag भी कहा जाता है। जैसे-  दिन के किस समय एडिटिंग रिकॉर्ड हो रही है, रीडिंग खाना खाने से पहले की है कि  बाद की,   रीडिंग exercise करने से पहले ली गई है कि बाद में , यह सब Markers की श्रेणी में आते हैं। आपके खून में शुगर की मात्रा इन सब गतिविधियों के बाद और पहले, या दिन के अलग-अलग समय पर,   बदलती है।  और यह जानकारी  आपके डॉक्टर को आप की स्थिति ज्यादा अच्छी तरह से दर्शाती  है। तो हमेशा एक ऐसा ग्लूकोमीटर  लेना अच्छा होता है जिसमें यह विशेषताएं  हो। 

  1. Data storage

 ऐसा ग्लूकोमीटर बेहतर होता है जिसमें मेमोरी चिप हो। यह आपके रिजल्ट को मेमोरी चिप में सेव कर लेता है ताकि आप बाद में इसे देख सके। इसका एक और फायदा है कि जब आप डॉक्टर के पास जाएंगे  तब आप इसे उनको दिखा सकते हैं जिससे उनको आपकी स्थिति का ज्यादा बेहतर अंदाजा मिलता है। आमतौर पर ग्लूकोमीटर 500 रिजल्ट तक अपनी मेमोरी में सेव कर सकते हैं । 

  1.  automatic or manual coding

Coding  का इस्तेमाल ग्लूकोमीटर और testing strip  के सेट को समायोजित करने के लिए किया जाता है।Coding  दो  तरह की होती है – 

1- Manual coding- इसमें आपको ग्लूकोमीटर में एक  कोड(Code)  डालकर ग्लूकोमीटर और टेस्टिंग स्ट्रिप के सेट को समायोजित करना पड़ता है। अगर कोड डालने में कोई गलती हो जाए तो रीडिंग गलत आ सकती है, ।

2- Automatic coding- ऑटोमेटिक कोडिंग में शुगर की मशीन अपने आप टेस्टिंग  स्ट्रिप से समायोजित हो जाती है जिसे गलती  होने का खतरा खत्म हो जाता है,और यह इस्तेमाल करने में भी आसान होते हैं। इसलिए automatic coding वाला ग्लूकोमीटर हमेशा ज्यादा बेहतर होता है।

  1. Data display

अगर हो सके तो एक ऐसा ग्लूकोमीटर ले जिसका डिस्प्ले बड़ा हो और उसमें backlight भी हो। बैकलाइट होने से कम रोशनी में भी आप आसानी से रीडिंग देख  सकेंगे।

  1.  data transfer

कई ग्लूकोमीटर आपको फोन या लैपटॉप से कनेक्ट करने का फीचर भी देते हैं जिससे आप अपने डेटा को उन में  भेज सकते हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप अपने डॉक्टर को फोन के माध्यम से ही अपनी रीडिंग भेज सकते हैं, और अपने उपचार के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

  1.  battery or rechargeable

 ग्लूकोमीटर दो तरह के आते हैं-

1-  Battery वाले,  और

2-  Rechargeable

 Battery वाले ग्लूकोमीटर में करीब 500 से 1500  टेस्ट के बाद बैटरी बदलनी पड़ती है। Rechargeable इनको आप कभी भी  अपने मोबाइल की तरह ही चार्ज कर सकते हैं । 

  1.  warranty 

मेरे ख्याल से आपको यह बताने की जरूरत नहीं है कि शुगर की मशीन खरीदने से पहले  मशीन की वारंटी  की पूरी जानकारी ले लें। 

ग्लूकोमीटर(शुगर की मशीन) को कैसे इस्तेमाल करें ?

मैंने यूट्यूब से खोज के ऊपर ये वीडियो भी लगा दी है , ताकि अगर आप को पढ़ने में आलस आ रहा है तो आप वीडियो देख कर ग्लूकोमीटर को सही तरह से इस्तेमाल करना सीख जाएँ।

सबसे पहले तो आप pricking device(Lencet)  और  ग्लूकोमीटर को  तैयार कर ले, pricking device में lencets लगाकर उसे एक साइड में रख दें और ग्लूकोमीटर मशीन में testing strips लगा ले। 

अब अपनी उंगली को स्पिरिट से अच्छी तरह से साफ कर ले। याद रहे उंगली prick(खून निकालने के लिए छेद करना) तभी करें जब उंगली पूरी तरह से सूख जाए नहीं तो ग्लूकोमीटर में गलत रीडिंग आने का खतरा रहता है । 

Prick  करने के बाद उंगली पर जो  खून की बूंद आएगी उसे testing strip पर रखें ।  टेस्ट स्ट्रिप पर  खून रखने का तरीका सभी ग्लूकोमीटर में अलग होता है,  कुछ में testing strip  के बीच में रखा जाता है  और कुछ में  खाली testing strip के   किनारे से खून की बूंद को  छुआ दिया जाता है। 

Frequently Asked Questions:

क्या Accu-check Instant एकदम सही रिजल्ट दिखाता है?  

हर ग्लूकोमीटर में 10 से 15% तक का उतार चढ़ाव तो रहता ही है,  और यह अंतरराष्ट्रीय मानकों  द्वारा मान्य है। ग्लूकोमीटर की  रीडिंग कई वजहों से गलत हो सकती है,  जैसे-  खराब test strip, खून के नमूने की मात्रा कम होना, coding  में गलती होना, मशीन में कोई  अंदरूनी गलती, इत्यादि । 

Accu-Check  की बैटरी कितने समय तक चलती है?

Accu-Chek में Panasonic CR2032 3V कॉइन सेल का इस्तेमाल होता है और Amazon के अनुसार इसका 18 घंटे का बैटरी जीवन होता है।

क्या बहुत सारा पानी पीने से खून में शुगर की मात्रा कम हो सकती है?

इसका उत्तर है हां, परोक्ष रूप से यह इंसुलिन रेसिस्टेन्स को कम करेगा और व्यक्ति को अपनी भूख कम करने में मदद करेगा।

उचित मात्रा में पानी पीने के कारण इंसुलिन रेसिस्टेन्स में कमी आती है। एक दिन में 8 गिलास पानी पीने से रक्त शर्करा कम होता है। और एक ही समय में आप जितना अधिक पानी पीते हैं, उतना आप को भूख भी कम लगती है, इसलिए आप दिन के दौरान कम खाते हैं, जैसे- खाने से पहले एक गिलास पानी पीने से पेट भर जाता है, जिससे एक व्यक्ति जो डाइटिंग कर रहा है उसे तृप्ति (पूर्णता) ) जल्दी होती है ।

reference : Can drinking lots of water lower my blood sugar?

Control solution का जीवन कितना होता है ?

आप को हमेशा control solution का इस्तेमाल करना चाहिए। Control solution खोलने के 3 महीने तक आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

How to use glucometer शुगर की मशीन को इस्तेमाल करने का तरीका
शुगर की मशीन को इस्तेमाल करने का तरीका

और लेख पढ़ें –

Reference

Gloucometer : 10 best Sugar test machine price

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *