Hydrocele

Hydrocele kya hai in Hindi

Hydrocele kya hai aur hydrocele kese hota hai. hydrocele ko kaise pehchane , doctor hydrocele ki janch kese karte hain- janiye is lekh men.

Hydrocele kya hai in Hindi

अंडकोश की थैली(scrotum) में अंडों के इर्द-गिर्द मौजूद एक संरचना होती है जिसे tunica veginalis कहते है, उसमे तरल पदार्थ के भर जाने को हैड्रोसील कहते हैं। हैड्रोसील को और अच्छे से समझने के लिए पहले आप नीचे दी गयी तस्वीर को ध्यान से देखें और समझें।

Hydrocele kya hai in hindi
Hydrocele kya hai in hindi

तस्वीर में आप अंडकोश की थैली में अंडे के सामने tunica veginalis नामक संरचना को देख सकते है। आम तौर पर इसका जो पेट से संपर्क(communication) है वो पैदा होने के बाद खत्म हो जाता है। परंतु कुछ लोग ऐसे भी होते है जिनमे ये रास्ता बंद नही हो पाता। इस संपर्क के रास्ते के बंद होने और न होने के आधार पे हैड्रोसील को दो भागों में बाँटा गया है-

  1.  Communicating hydrocele
  2. Non- communicating hydrocele

hydrocele kaise hota hai in hindi

नवजात शिषु मे हैड्रोसील होने की संभावना बड़ों से ज्यादा होती है।Medescape के एक लेख के अनुसार – hydrocele केवल 1% वयस्क पुरुषों को ही प्रभावित करता है।

करीब 80% नवजात शिशुओं में tunica veginalis और पेट को जोड़ने वाली सुरंग बन्द नहीं हो पाती, परंतु ज्यादातर 18 महीने की उम्र तक अपने आप बन्द हो जाती है। ज्यादातर hydrocele के मामले जन्मजात होते है और 1 से 2 साल की उम्र के बच्चो में मिलते हैं।

बच्चों में हैड्रोसील कैसे होता है?

नवजात शिशुओं में hydrocele पैदा होने के पहले ही हो जाता है। बच्चे के जो अंडकोष होतें है वो उसके पेट मे बनते है, और जन्म से पहले वो पेट से अंडकोष की थैली में आ जाते हैं। इस प्रक्रिया में हर अंडकोष के साथ एक-एक तरल से भरी थैली भी आती है जिसे tunica veginalis कहतें है।

Tunica vaginalis को आप ऊपर तस्वीर में देख सकतें है। अब आमतौर पे tunica veginalis और उसका पेट से संपर्क करने वाली सुरंग पैदा होने से पहले ही बंद हो जाती है, और tunica veginalis में मौजूद तरल को बच्चे का शरीर सोख लेता है। 

अगर इस प्रक्रिया में कोई बाधा आती है और ये प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाती तो बच्चे में hydrocele हो जाता है।

  1. अगर tunica veginalis से पेट का संपर्क करने वाली सुरंग तो बंद हो जाए परंतु बच्चे का शरीर tunica veginalis में मौजूद तरल को न सोख पाए तो बच्चे में होने वाले hydrocele को Non-communicating hydrocele कहतें है।
  2. अगर tunica veginalis से पेट का संपर्क करने वाली सुरंग ही बंद न हो तो उसे Communicating hydrocele कहते हैं। ये hydrocele समय के साथ बढ़ भी सकता है । क्योंकि इसका पेट से संपर्क खत्म नहीं हुआ है, और पेट की एक संरचना peritonium में मौजूद तरल सुरंग के माद्यम से tunica veginalis में आ के उसके आकर को बढ़ा सकता है।

बड़ों में हैड्रोसील कैसे होता है?

बड़ों में ज्यादातर 40 साल के ऊपर के पुरुषों में ये समस्या पाई जाती है। बड़ों में hydrocele का कारण निम्नलिखित कारणों में से कोई एक हो सकता है।

  1. Tunica veginalis और पेट का संपर्क करने वाली सुरंग का फिर से खुल जाना। जिससे पेट से तरल tunica vaginalis में आ के hydrocele कर सकता है।
  2. अंडकोष में चोट लगने की वजह से।
  3. अंडकोष में संक्रमण हो जाने की वजह से (जैसे-epididymitis)

hydrocele ko kaise pahchane

हमने ये तो जान लिया कि हैड्रोसील क्या होता है और कैसे होता है, अब सवाल ये उठता है कि आप ये कैसे पहचाने की आप के अंडकोष की थैली में जो सूजन है वो हैड्रोसील की वजह से ही है किसी और कारण से नही। तो इस सवाल का जवाब ये है कि आप ये खुद से नहीं बता सकते, आप को डॉक्टर के पास जाना ही होगा।

डॉक्टर hydrocele की पहचान कैसे करते हैं?

डॉक्टर पहले तो आप से आप की बीमारी के बारे में पूछेंगे की सूजन कब से है, दर्द होता है कि नही, कोई चोट तो नही लगी थी, इत्यादि। 

फिर डॉक्टर आप पे transillumination test करेंगे। इस test में डॉक्टर आप के अंडकोष की थैली पे टॉर्च लगाकर ये देखेंगे कि टॉर्च से पैदा होने वाली रोशनी अंडकोष की थैली को कितने अच्छे से भेद पा रही है। अगर आप के अंडकोष की थैली में तरल होगा तो रोशनी की भेदने की क्षमता ज्यादा होगी, और अगर उसमे कोई ठोस मास भरा होगा तो भेदने की क्षमता कम होगी।

क्योंकि अंडकोष की थैली की सूजन का एक बहुत ही आम कारण hernia भी है, तो डॉक्टर ये सुनिश्चित करने के लिए की सूजन का कारण hernia नही है वो आप पे cough reflex टेस्ट भी कर सकता है। 

Cough reflex टेस्ट में वो आप को खड़े होकर, एक तरफ मुह करके खाँसने को बोलेगा। जब आप ये प्रक्रिया कर रहे होंगे तब वो आप की अंडकोष की थैली का परीक्षण करेगा।

फिर वो किसी प्रकार के संक्रमण की संभावना को परखने के लिए आप से खून और पेशाब की जांच के लिए भी बोल सकता है।

डॉक्टर के पास कब जाएँ?

अगर आप की अंडकोष की थैली सूजी हुई है तो इसका मतलब यह नहीं है कि आप को hydrocele ही है। hydrocele से भी खतरनाक कई और बीमारियां हैं जो अंडकोष की थैली में सूजन पैदा कर सकती है। इसलिए अगर आप को अपने अंडकोष की थैली में सूजन लग रही है तो डॉक्टर के पास अवश्य जाएं।  

वैसे तो नवजात शिशुओं में hydrocele अपने अपने आप ही सही हो जाता है। परंतु अगर बच्चे में hydrocele अपने आप न जाये, या और बड़ा हो रहा हो तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं और hydrocele की दोबारा जांच के लिए कहें।

अगर आप के बच्चे के अंडकोष की थैली( scrotum) में अचानक दर्द और सूजन हो जाये, खासतौर पे किसी चोट लगने के बाद, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ।

अंडकोष की थैली में दर्द और सूजन का कारण अंडकोषों का मुड़ना भी हो सकता है। अंडकोषों के मुड़ने से उनमे रक्त पहुचने वाली नसें बंद हो सकती है। अगर इसका इलाज तुरंत नही किया जाए तो अंडकोषों में स्थायी नुकसान हो सकता है।

क्या hydrocele नपुंसकता का कारण बन सकता है?

एक रिसर्च के अनुसार hydrocele खुद आप की बच्चा पैदा करने की क्षमता पे कोई असर नही डालता, परंतु अगर hydrocele के साथ कोई रोग या संक्रमण भी मौजूद है तो उसका बुरा प्रभाव आप की बच्चा पैदा करने की क्षमता पर पड़ सकता है।

References for Hydrocele kya hai in hindi

Does hydrocele affect later fertility?-NCBI

Hernia and Hydrocele

Healthline.com

mayoclinic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *